बच्चों का आईक्यू लेवल बढ़ाने के लिए करें ये काम, कंप्यूटर जैसा तेज होगा दिमाग

ब्रेन टीजर और पजल्स आपके बच्चे के संज्ञानात्मक कौशल बनाने का एक शानदार तरीका माना जाता है. यह उन्हें बेहतर सीखने में मदद करता है, उन्हें चीजों को जाने की इच्छा होती है. यह बदले में जीवन के सभी क्षेत्रों में उनकी समस्या समाधान संस्थाओं में सुधार करता है. लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इस तरह के मजेदार दिमाग को चुनौती देने वाले खेल यादाश्त को बढ़ाते हैं और बच्चों में उच्च एकाग्रता शक्ति का निर्माण करते हैं. आज हम आपको कुछ तरीका बताइए जिससे बच्चों का आईक्यू लेवल बढ़ाया जा सकता है.

बच्चों का आईक्यू लेवल बढ़ाने के लिए करें ये काम, कंप्यूटर जैसा तेज होगा दिमाग
1.मेमोरी स्किल –

मेमोरी को बढ़ाने के लिए मेमोरी एक्टिविटी करना बहुत जरूरी होता है. इससे ना सिर्फ याददाश्त में सुधार होता है, बल्कि यह लॉजिकल स्किल और लैंग्वेज स्किल को भी बढ़ा सकती है. इनमें आप बच्चों को यह गेम खेलने को दे सकते हैं. पहेली क्रॉसवर्ड, पहेलियां सुडोकू, कार्ड मेकिंग, कार्ड गेम.

2.अपने बच्चों को ना पढ़ें, उनके साथ पढ़े –

एक छोटा बच्चा है, जो पढ़ना सीख रहा है. जब आप किताब पढ़ रहे हो तो उन्हें किताब केवल देखने के लिए ना दे, बल्कि शब्दों पर भी ध्यान देना सिखाएं, उनके साथ पढ़ें.

3.बच्चों से सवाल पूछें –

सवाल पूछने का मतलब यह नहीं है कि आप हमेशा अपने बच्चों से जनरल नॉलेज ही पूछे. बल्कि आप छोटी-छोटी चीजें भी पूछ सकते हैं. ऐसे में आपको अंदाजा लगाने में आसानी रहेगी कि बच्चा आसपास की चीजों के बारे में क्या सोचता है.

4.बड़े होकर क्या बनना चाहता है –

आप अपने बच्चे से पूछ सकते हैं कि उन्हें बड़े होकर क्या बनना है. इसके बाद उनसे पूछे कि वह क्यों यही बनना चाहते हैं. इससे आपको अंदाजा हो जाएगी कि बच्चा किसी प्रोफेशन को किस तरह से देखता है और उसे क्या पसंद है और क्यों पसंद है.

5.क्या बात परेशान करती है –

बच्चों को अपने इमोशंस के बारे में बताना सिखाइए. उन्हें सवाल करें कि उन्हें क्या चीज पसंद नहीं आती है ? क्या किस बात से उन्हें डर लगता है ? ऐसे में उनके नेगेटिव इमोशंस भी बाहर आएंगे, जिससे आप उन्हें सही से बातों को समझा पाएंगे,

सम्बन्धित खवर

ताजा समाचार

लोकप्रिय